Aug 28, 2009

Aug 25, 2009

साथी संभल-संभल कर चलना

साथी संभल-संभल कर चलना बीहड़ पंथ हमारा | है अँधियारा पर प्राची में झांक रहा सवेरा || बलिवेदी का अंगारा तू जीवन ज्योति जला दे | जीवन ... लम्ब...

Aug 19, 2009

Aug 1, 2009

इतिहास याद दिलाये

इतिहास याद दिलाये मेवाड़ी जयमल पत्ता की ! मेवाड़ी जयमल पत्ता की ! जागो ! जागो !! जली रानियाँ जौहर व्रत ले , अंगारों से खेली थी अंगारों से खे...