Aug 28, 2009

Aug 25, 2009

साथी संभल-संभल कर चलना

साथी संभल-संभल कर चलना बीहड़ पंथ हमारा | है अँधियारा पर प्राची में झांक रहा सवेरा || बलिवेदी का अंगारा तू जीवन ज्योति जला दे | जीवन ... लम्ब...

Aug 19, 2009

Aug 1, 2009

इतिहास याद दिलाये

इतिहास याद दिलाये मेवाड़ी जयमल पत्ता की ! मेवाड़ी जयमल पत्ता की ! जागो ! जागो !! जली रानियाँ जौहर व्रत ले , अंगारों से खेली थी अंगारों से खे...

Jul 13, 2009

Jun 5, 2009

सीहा जी पर लगे मिथ्या आरोप

पिछले लेख में मोहम्मद गौरी का नाम शहाबुद्धीन लिख देने से काफी पाठको ने इस बात को समझाने में परेशानी अनुभव की | मोहम्मद गौरी का पूरा नाम मो...

May 25, 2009

Apr 24, 2009

Apr 10, 2009

बलि पथ के सुंदर प्राण

बलि पथ के सुंदर प्राण | बलि होना धर्म तुम्हारा, जीवन हित क्यों पय पान || आज खडा तू मंदिर आगे, देव पुरुष के है भाग्य जागे | टूट रहे ...

Apr 5, 2009

आराम कहाँ

आराम कहाँ अब जीवन में अरमान अधूरे रह जाते | दिल की धड़कन शेष रहे हाथों के तोते उड़ जाते || तिल-तिल कर तन की त्याग तपस्या का अमृत संचय करते |...

Apr 1, 2009

काली पहाड़ी ग्राम में जमुवाय माता के मन्दिर में मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा

बगड़ ग्राम काली पहाडी में जमुवाय माता की मूर्ति स्थापना पर दो दिवसीय धार्मिक कार्यक्रम में सोमवार को शोभा यात्रा निकाली...

Mar 22, 2009

Feb 24, 2009

Feb 17, 2009

इतिहास की चोटों का

इतिहास की चोटों का एक दाग लिए फिरते है | सीने के घराने में इक दर्द लिए फिरते है || हम भूल नही सकते महमूद तेरी गजनी | अब तक भी आंखों में वह ...

Feb 10, 2009

राजस्थान के लोक देवता श्री पाबूजी राठौङ-भाग ३ (अन्तिम भाग)

गुजरात राज्य मे एक स्थान है अंजार वैसे तो यह स्थान अपने चाकू,तलवार,कटार आदि बनाने के लिये प्रसिद्ध है । इस स्थान का जिक्र मै यहाँ इस लिये क...

Jan 26, 2009

Jan 4, 2009

राजस्थान के लोक देवता श्री पाबूजी राठौङ भाग-2

राजस्थान के लोक देवता श्री पाबूजी राठौङ की कथा श्रृंखला की यह दूसरी कडी है । पाठकों से निवेदन है कि इस लेख को इतिहास कि कसौटी पर ना परखे क्...