Aug 8, 2008

राजपूत कौन

विविधायुध वान रखे नितही , रण से खुश राजपूत वही |
सब लोगन के भय टारन को ,अरी तस्कर दुष्टन मारन को |
रहना न चहे पर के वश में ,न गिरे त्रिय जीवन के रस में |
जिसके उर में शान्ति रही ,नय निति रखे राजपूत वही |
जननी भगनी सम अन्य त्रिया, गिन के न कभी व्यभिचार किया |
यदि आवत काल क्रपान गहि ,भयभीत न हो राजपूत वही |
धर्तिवान से धीर समीप रखे , निज चाकर खवासन को निरखे |
जिसने न रिपु ललकार सही , राजपूत रखे राजपूत वही |
पर कष्टं में पड़ के हरता ,निज देश सुरक्षण जो करता |
जिसने मुख से कही न नहीं ,प्रण पालत सो राजपूत वही |
अज्ञात कवि
(श्री सोभाग्य सिंह शेखावत के संकलन से )
Rajul Shekhawat

19 comments:

कुन्नू सिंह said...

बहूत अच्छा लीखा है ऎसे ही लीखते रहीये।

safat alam taimi said...

धन्यवाद , आपकी रचना बहुत अच्छी लगी, दिल की गहराई से बधाई स्वीकार करें।

Shekhawat said...
This comment has been removed by the author.
नरेश सिह राठोङ झुन्झुनूँ राजस्थान said...

बहुत अच्छा संकलन है आपका ।

Deepratna Singh Parmar said...

bahut acchi hai...i like it

santosh said...

great,great,great

santosh said...

great,great,great

Malkhan Singh Bais said...

धन्यवाद , आपकी रचना बहुत अच्छी लगी, दिल से बधाई स्वीकार करें।

Malkhan Singh Bais
Panna (M.P.)

Anonymous said...

this comment is very good. for rajput samaj

ajayrajrajput said...

it is vere good sir

Jitendra said...

GREAT VERY GERAT RAJPUT

कुन्नू सिंह said...

रघु कुल रित सदा चली आई,
प्राण जाई पर वचन न जाई।

राजपूत = राजा का पूत्र


:)

Anonymous said...

this is fantastic kavita for all rajput samaj

Rajendra Singh Rathore
Village: Kailash
Tahsil: Taranagar-331304
Distt. Churu
Rajasthan

raghuveer singh said...

me apke sabhi kathno se santust nahi hoo ye hi niteeya rajputo ke patan ka karan rahi hai. phir bhi apke kuch kathan sarahaniye hai. rajpurto samay ke anusar sam dam dund ki niti se kam lena chaheye rajputo me badta netik patan . wastav me sacha rajput koi nahi hai

Sanjeev Kumar Singh said...

श्रीमान
आपने जो राजपूत कौन के बारे में जो लिखा है वो एकदम सही है इसके लिए आपको मेरा कोटि-कोटि प्रणाम स्वीकार करे.
हमें बहुत ही अच्छा लगा

संजीव कुमार सिंह
sanjeevbhaijamui@gmail.com

PREM SINGH MAHECHA KAWAS said...

बहूत अच्छा लीखा है हमें बहुत ही अच्छा लगा

PREM SINGH MAHECHA KAWAS said...

हमें बहुत ही अच्छा लगा

twinkle khichi said...

aachi ha ji

HEMENDRA SINGH SHAKTAWAT said...

Very very...
good he hukum